बिलासपुर । पुलिस प्रशासन भी भारतीय परंपराओं से परे नही है। पुलिस द्वारा शस्त्रों की पूजा हर साल ही देखने को मिलता है। पुलिस के आला अफसरों से लेकर सिपाहियों तक ने शस्त्र पूजा में हिस्सा लेकर शस्त्रों की पूजा कर माता से आशीर्वाद लेते है।
दशहरा के दिन जिले के सभी थानों के अलावा बिलासपुर पुलिस लाइन में शुक्रवार 15 अक्टूबर 2021 को शास्त्रों की पूजा की गई। सभी थाना के प्रभारियों ने शस्त्र पूजा के लिए विशेष इंतजाम किए थे। थाना में पूजा पाठ के बाद पुलिस ने दशहरा के दिन काम की शुरूआत की। मां भवानी की पूजन कर आशीर्वाद प्राप्त किया जाता है। ताकि बुराई का अंत कर अच्छाई पर जीत प्राप्त की जा सके। इस मौके पर बिलासपुर एसएसपी दीपक झा एएसपी उमेश कश्यप एएसपी ग्रामीण रोहित झा समेत पुलिस के आला अधिकारी व कर्मचारी मौजूद थे। सुबह पंडित जी के मंत्र उच्चारण के साथ शस्त्र पूजा कराई गई। पूजा की परंपरा विधि विधान से संपन्न होने के बाद पुलिस अधिकारियों द्वारा हवाई फायरिंग व वाहनों की भी पूजा की गई।
क्या है शस्त्र पूजा- जिस तरह विश्वकर्मा जयंती के दिन मिशनरी समानो, छत्तीसगढ़ में हरेली के दिन औवजारों की पूजा की जाती है, ठीक उसी प्रकार दशहरा पर्व को विजयादशमी के नाम से भी जाना जाता है. इस दिन दशहरा पूजा के साथ अस्त्र-शस्त्र की पूजा का विधान है। कहा जाता है कि इस दिन शस्त्र पूजा से शत्रुओं पर विजय प्राप्त होती है।