पटना, बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने बीते दिन राजद प्रमुख लालू यादव पर बीजेपी विधायक को लालच देने का आरोप लगाया था. जिस ट्वीट में सुशील मोदी ने एक नंबर जारी किया था, अब उसे ट्विटर द्वारा हटा दिया गया है. ट्विटर के मुताबिक, इस ट्वीट में नियमों का उल्लंघन किया गया है जिसके कारण इस ट्वीट को हटा दिया गया है.  आपको बता दें कि सुशील मोदी द्वारा एक नंबर साझा किया गया था, उनका आरोप था कि इस नंबर से राजद प्रमुख लालू यादव रांची की जेल से फोन कर रहे हैं और एनडीए के विधायकों को लालच दे रहे हैं. बिहार में हुए विधानसभा स्पीकर के चुनाव से पहले सुशील मोदी ने ये दावा किया था, उन्होंने कहा था कि जब उन्होंने वापस उस नंबर पर फोन मिलाया तो लालू यादव ने ही फोन उठाया था.
इसके अलावा भी सुशील मोदी ने एक और ट्वीट किया था, जिसमें उन्होंने एक कथित ऑडियो जारी किया था. सुशील मोदी ने ऑडियो जारी करते हुए दावा किया था कि लालू यादव ने विधायक को स्पीकर चुनाव से हटने की सलाह दी और उनका समर्थन करने को कहा.  बीजेपी के विधायक लल्लन पासवान ने भी इस बात की पुष्टि की थी कि लालू यादव का उनको फोन आया था. हालांकि, राजद ने इस दावे को बिल्कुल गलत करार दिया था. बता दें कि सुशील मोदी ने जो ऑडियो जारी किया था, वो ट्वीट अभी भी बरकरार है. बिहार में बीते दिन विधानसभा अध्यक्ष पद का चुनाव हुआ, जिसमें एनडीए के प्रत्याशी विजय सिन्हा की जीत हुई है. लेकिन उससे पहले सुशील मोदी ने ऐसे आरोप लगाकर तहलका मचा दिया था, जिसका राजद ने विरोध किया था.