नई दिल्ली । कोरोना संकट की वजह से ठप पड़ी पर्यटन गतिविधियों को फिर से रफ्तार देने को लेकर केंद्रीय पर्यटन मंत्री प्रहलाद सिंह पटेल ने 21 राज्यों के साथ चर्चा की। इनमें पूर्वोत्तर सहित दक्षिण के ज्यादातर वे राज्य शामिल थे, जो बैठक में नहीं थे। चर्चा में इन राज्यों ने पर्यटन से जुड़ी गतिविधियों को शुरू करने करने की तैयारियों की जानकारी दी। हालांकि इस दौरान सभी राज्यों ने ठप पड़े सेक्टर को फिर से खड़ा करने के लिए वित्तीय मदद की जरूरत बताई। केंद्रीय मंत्री ने राज्यों को तय प्रोटोकॉल से तहत कोरोना से सुरक्षा को लेकर पूरी तैयारी रखने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने इस दौरान होटल और रेस्टोरेंट में ग्राहकों की सुरक्षा को लेकर 'साथी' नाम से शुरू मोबाइल एप की जानकारी भी साझा की और सभी राज्यों से इन पर प्रमुखता से अमल कराने का सुझाव भी दिया। चर्चा में उन्होंने प्रस्तावित पर्यटन नीति को लेकर भी राज्यों से जल्द ही अपनी राय देने को कहा। पर्यटन से जुड़ी गतिविधियों को लेकर केंद्रीय मंत्री ने राज्यों के साथ दो दिनों की वर्चुअल बैठक रखी थी। इस दौरान पहले दिन 15 राज्यों के पर्यटन मंत्रियों और अधिकारियों के साथ चर्चा की थी। इसमें उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, गोवा, मध्य प्रदेश जैसे राज्य शामिल थे।