बिलासपुर । मुंगेली जिले से महज 10 किलोमीटर दूर मुंगेली रायपुर मेन रोड पर ग्राम पंचायत पन्डरभ_ा का मामला सामने आया, जहाँ आपको बता दें मृत ब्यक्तियों के नाम से पिछले एक डेढ़ वर्षों से चावल वितरण सोसाइटी संचालक के द्वारा किया जा रहा जिसकी शिकायत, गाँव के उपसरपंच द्वारा कि गई।
बतादे की ग्राम पंचायत पन्डरभ_ा में शा. उचित मूल्य की दुकान का संचालन सहकारी समिति प. क्रमांक 676 पन्डरभ_ा के द्वारा किया जा रहा। जिसका संचालन कार्य समिति में पदस्थ कर्मचारी सह कम्प्यूटर ऑपरेटर रविन्द्र यादव द्वारा किया जाता है जहाँ पर जिनके ऊपर पहले भी नवागांव सेवा सहकारी समिति में बतौर कम्प्यूटर आपरेटर रहते हुए किसानों के फर्जी हस्ताक्षर कर पैसा गबन करने का मामला सामने आया था और जिनकी वर्तमान नियुक्ति भी सन्देहास्पद है।
बताते चलें कि पन्डरभ_ा के मृत हितग्राहियों जिनके नाम से आज भी चावल निकाला जा रहा क्रमश: फूल बाई पटेल, मृत्यु दी. 22.05.2020,  नंदकुवर राजपूत, मृत्यु दी. 07.01.2020,  नंदलाल राजपूत मृत्यु दी. 21.06.2020,   सुहावन साहु मृत्यु दी. 10.08.2020,  समुंद्राबाई मृत्यु दी. 15.12.2020,  विजेलाल राजपूत मृत्यु दी. 12.04.2020 में हो चुकी है। जिनका चावल का वितरण सोसाइटी समिति के संचालन के द्वारा आज तक किया जा रहा।
जिस पर शिकायत कर्ता ग्राम के उपसरपंच पालेंद्र शुक्ला के साथ ग्राम वासियों के द्वारा किया गया शिकायत की जाँच कर कार्यवाही की मांग की गई। ऐसे में सवाल ये खड़ा हो रहा कि मरे हुये व्यक्तियों के नाम का राशन आखिर कोन खा रहा ? और मरे व्यक्तियों का चावल निकालने वाले वितरक सोसाइटी संचालक पर कार्यवाही कब होगी।