नई दिल्ली । पूर्व भारतीय क्रिकेटर सुरेश रैना ने कहा है कि वह उत्तर प्रदेश, जम्मू और राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में  का निर्माण करेंगे। इससे करीब 10,000 बच्चों को स्वास्थ्य और स्वच्छता की सुविधाएं मिलेंगी। इस काम में रैना के एनजीओ 'ग्रेसिया रैना फाउंडेशन' की सहायता अमिताभ शाह की 'युवा अनस्टोपबल' करेगी। इस कार्य के तहत रैना स्कूलों में स्वच्छता पर ही नहीं ब्लकि कई और मामलों पर भी ध्यान देंगे। इसके साथ ही छात्रों को स्मार्ट क्लास की सुविधा भी उपलब्ध करवाई जाएगी। रैना ने कहा कि इस पहल के साथ ही वह शुक्रवार को अपना 34वां जन्मदिन मनाएंगे। इस क्रिकेटर ने कहा कि हर बच्चा अच्छी शिक्षा का अधिकारी है और इसमें स्कूलों में सुरक्षित और स्वच्छ पेयजल और शौचालय सुविधाओं तक पहुंच का उनका अधिकार शामिल है और इसमें स्कूलों में मुझे उम्मीद है कि हम ग्रेसिया रैना और युवा अनस्टोपबल के साथ इसमें योगदान कर सकते हैं। रैना ने साथ ही कहा कि हजारों बच्चों को लाभान्वित करने वाली उन्नत सुविधाओं को देखना वास्तव में विनम्र है। यह एक बेहतरीन शुरुआत है और हम भविष्य में कई और स्कूलों को बदलने के लिए उत्सुक हैं।