बिलासपुर । बदहाल सिम्स में स्वास्थ्य मंत्री के करीबी पंकज सिंह द्वारा एमआरआई के लिए टालमटोल करने वाले टेक्नीशियन को डाँटना महंगा पड़ गया टेक्नीशियन द्वारा पंकज द्वारा मारपीट किए जाने की शिकायत पर सक्रिय हुई कोतवाली पुलिस ने गैर जमानती धाराओं के तहत देर रात पंकज सिंह के खिलाफ अपराध दर्ज कर लिया पंकज सिंह के खिलाफ गैर जमानती धाराओं के तहत अपराध दर्ज होने के बाद शहर विधायक शैलेष पाण्डेय व पंकज सिंह अपने समर्थको के साथ कोतवाली थाना पहुच गए घण्टो की गहमागहमी के बाद भी पुलिस ने शहर विधायक को दर्ज एफआईआर के सम्बंध में वांछित जानकारी नही दी गैर जमानती धाराओं के तहत अपराध दर्ज करने वाली पुलिस ने भारी विरोध के चलते पंकज सिंह को गिरफ्तार करने में रुचि नही दिखाई गुटबाजी में उलझी कांग्रेस के दूसरे गुट के समर्थक कोतवाली में घण्टो जमे रहे शहर विधायक शैलेष पाण्डेय ने मीडिया से कहा कि टी एस बाबा के समर्थकों को पुलिस निशाना बना रही है साल भर पहले गरीबो को खाद्यान्न बांटने पर मुझपर जबरिया एफआईआर ठोकी गई और अब टी एस बाबा के समर्थक पंकज सिंह को सिम्स कर्मी से मारपीट करना बताते हुए बिना जांच किए गैर जमानती धाराओं के तहत कोतवाली थाना में जुर्म पंजीबद्ध किया गया है पुलिस पंकज मामले में ऊपर से दबाव होना बता रही है पुलिस को आगे कर टी एस बाबा गुट को टारगेट किया जा रहा है ।
ब्राह्मणों पर आपत्तिजनक टिप्पणी करने के बाद मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के पिता को बीते दिनों जेल भेज दिया गया घटना के सम्बंध में सीएम भूपेश बघेल ने कहा कि कानून से ऊपर कोई नही है सीएम की बताई लाईन को चरितार्थ करते हुए बिलासपुर पुलिस ने सिम्स के टेक्नीशियन के साथ स्वास्थ्य मंत्री के करीबी पंकज सिंह द्वारा कथित रूप से मारपीट किए जाने की शिकायत पर एफआईआर दर्ज कर ली गई तत्पश्चात बुुुधवार को बिना जांच किए पुलिस द्वारा गैर जमानती धाराओं के तहत अपराध पंजीबद्ध किए जाने से आक्रोशित विधायक शैलेष पाण्डेय और पंकज सिंह के समर्थकों ने बड़ी संख्या में दोपहर को कोतवाली थाना का घेराव कर दिया नारेबाजी के बीच थोड़ी देर में विधायक शैलेश पांडेय अपने साथ पंकज सिंह को लेकर कोतवाली थाने पहुंच गए और कहा कि अपराध दर्ज हुआ है तो गिरफ्तारी देने आए हैं थाने के अंदर काफी देर तक पुलिस के अधिकारियों के साथ विधायक तथा पंकज सिंह के बीच गरमा गरम बस होती रही। विधायक शैलेश पांडेय ने आरोप लगाया कि पुलिस द्वारा बगैर जांच किए गैर जमानती धाराओं के तहत अपराध दर्ज किया जाना गंभीर मामला है। विधायक द्वारा पूछताछ पर पुलिस ने बताया कि ऊपर के आदेश से मामला दर्ज किया गया है।