ओडिशा सरकार ने राज्य में निशानेबाजी को बढ़ावा देने के लिए ओलंपिक पदक विजेता निशानेबाज गगन नारंग से करार किया है। इस करार के तहत यहां के कलिंगा स्टेडियम में 10 मीटर और 50 मीटर की एक रेंज तैयार की जायेगी। नारंग के अलावा इस परियोजना से आदित्य बिड़ला समूह भी जुड़ा हुआ है। इस परियोजना का नाम ओडिशा आदित्य बिड़ला-गगन नारंग निशानेबाजी हाई परफॉर्मेंस केन्द्र रखा गया है। इससे राज्य में हॉकी और एथलेटिक्स के बाद निशानेबाजी का बुनियादी ढांचा भी तैयार होगा। राज्य में खेलों को बढ़ावा देने के तहत मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने हिंजिलीकट, छत्रपुर और भुवनेश्वर में तीन अत्याधुनिक खेल सुविधाओं का भी उद्घाटन किया है। 
पिछले कुछ समय से ‘गगन नारंग स्पोर्ट्स प्रमोशन फाउंडेशन (जीएनएसपीएफ)’ के संचालन के साथ निशानेबाजों को तैयार कर रहे नारंग इस विकास से खुश है। उन्होंने कहा, ‘‘2012 के ओलंपिक से पहले भी मैं बदलाव का पर्याय बनना चाहता था। मैं चाहता था कि भारत में निशानेबाजी को लेकर लोगों का रुख बदले।’’ उन्होंने बताया, ‘‘मैं उन्हें निशानेबाजों को वह सब कुछ मुहैया करना चाहता हूं जो हमें नहीं मिला था। ओडिशा में 10 मीटर रेंज का उद्घाटन हम सभी के लिए एक बहुत बड़ी उपलब्धि है। हमने प्रतिभा पहचान कार्यक्रम के जरिये 75 निशानेबाजों को चुना है।’’ वहीं मुख्यमंत्री पटनायक ने कहा, ‘‘ यह कदम ओडिशा को देश की खेल राजधानी बनाने के हमारे सतत संकल्प को दर्शाता है। इसके लए हम सभी जिलों में अधिक जमीनी विकास कार्यक्रम शुरू करेंगे।’’