नई दिल्ली । देश में राजनीतिक विमर्श के गिरते स्तर पर चिंता जाहिर करते हुए भाजपा के वरिष्ठ नेता एवं रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि लोगों के बीच नफरत फैलाकर चुनाव लड़ा और जीता नहीं जाना चाहिए। एक स्वस्थ लोकतंत्र में कड़वाहट भरी और अप्रिय टिप्पणी की कोई जगह नहीं होनी चाहिए। राजनाथ सिंह ने यह भरोसा भी जताया कि राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) बिहार विधानसभा चुनाव जीतेगा। उन्होंने कहा कि चिराग पासवान नीत लोक जनशक्ति पार्टी के बिहार में राजग से बाहर होने का असर सत्तारूढ़ गठबंधन की चुनाव संभावनाओं पर नहीं पड़ेगा। सिंह ने इन आरोपों को भी खारिज कर दिया कि पासवान की पार्टी के साथ कोई गुप्त समझौता है। उन्होंने कहा कि भाजपा साफ सुथरी राजनीति में विश्वास रखती है और लोगों के विश्वास से खिलवाड़ नहीं करती। उन्होंने कहा कि चिराग और उनकी पार्टी (लोजपा) के गठबंधन से बाहर होने के अपने कारण हैं, लेकिन मुझे नहीं लगता कि लोजपा का कोई असर बिहार विधानसभा चुनाव में भाजपा-जद(यू) गठबंधन पर पड़ेगा। मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि हमारा गठबंधन चुनाव जीतेगा और राज्य में अगली सरकार बनाएगा। इस बात का जिक्र किए जाने पर कि चिराग अपने चुनाव प्रचार के दौरान सिर्फ मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर प्रहार कर रहे हैं, भाजपा पर नहीं इस पर सिंह ने कहा, व्यक्तिगत द्वेष स्वस्थ राजनीति के लिए अच्छा नहीं है। इससे दूर रहना चाहिए और मैं खुद इस तरह की राजनीति नहीं करता। 
राजनाथ सिंह ने कहा, स्वस्थ राजनीति में नफरत के लिए कोई जगह नहीं है और लोगों के बीच नफरत फैलाकर चुनाव लड़ा और जीता नहीं जाना चाहिए। उन्होंने कहा, एक दूसरे के खिलाफ कटुता, अप्रिय टिप्पणी और व्यक्तिगत आक्षेप लगाने से बचना चाहिए। यह स्वस्थ राजनीति के लिए अच्छा नहीं है। इसके बजाय चर्चा, बहस और यहां तक कि जनहित के मुद्दों पर तर्क-वितर्क होना चाहिए। सिंह ने बिहार में दर्जन भर से अधिक चुनावी रैलियों को संबोधित किया है और आने वाले दिनों में कई और रैलियों को संबोधित कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि जनसभाओं में जो प्रतिक्रिया उन्हें देखने को मिली है, वह इस बारे में मजबूत संकेत देती है कि भाजपा-जद(यू) गठबंधन राज्य में चुनाव जीतने जा रहा है।